बाजपुर पालिका कर्मचारी ने जीवित वृद्ध महिला को सत्यापन में दिखाया मृत, पीड़ित ने दी कोतवाली में तहरीर

1
440

पालिका कर्मी पर 1000 रूपए सुविधा शुल्क माँगने का वृद्धा ने लगाया आरोप 

बाजपुर। पालिका कर्मचारी पर भौतिक सत्यापन में सुविधा शुल्क नहीं दिये जाने पर 80 वर्षीय वृद्ध महिला को आख्या रिपोर्ट में मृत घोषित कर जिला समाज कल्याण अधिकारी को भेज वृद्धा की पेंशन बंद कराने का आरोप लगा है। पीड़ित वृद्धा अपनी बहु व बेटे के साथ न्याय के लिये दर दर ठोकरे खा रही है। वहीं पुलिस को तहरीर देकर आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।
सोमवार को अपने बेटे व बहु के साथ कोतवाली पहंुची 80 वर्षीय नगर पालिका के वार्ड नम्बर 4 निवासी विधवा बाल कौर ने तहरीर देकर कहा कि शासन से उसको वृद्धावस्था पेंशन स्वीकृत थी जो कि उसे मिल रही थी। आरोप था कि वर्ष 2016 मेें जीवित सत्यापन के नाम पर नगरपालिका के एक कर्मचारी ने सत्यापन के बदले में 1000 रूपये सुविधा शुल्क की मांग की मांग पूरी नहीं करने पर कर्मचारी ने आख्या रिपोर्ट भेज उसको मृत घोषित कर उसकी पेंशन रूकवा दी जिससे वृद्धा को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पीडिता ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई का अनुरोध किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। वहीँ पालिकाध्यक्षा श्रीमती जसबीर कौर ने बताया की वृद्धा पेंशन की जांच चल रही थी कर्मचारी द्वारा पूछताछ में गलती से वार्ड नंबर 4 निवासी बाल कौर को मृत दिखा दिया गया जिसकी जानकारी होने पर पालिका ने गलती मानते हुए लगभग 15 दिन पहले समाज कल्याण अधिकारी को पत्र भेजकर वृद्ध बाल कौर की पेंशन पुनः चालू करने की सिफारिश की गई है।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here